Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer Se Email Kaise Bhejte Hain?

Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer se Email Kaise Bhejte hain

Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer se Email Kaise Bhejte hain?  अक्सर हम ईमेल शब्द कई लोगो से सुनने में मिलता है।   ईमेल क्या होता है और कंप्यूटर से ईमेल कैसे भेजते है ? ये पूरा प्रोसेस हम इस ब्लॉग पोस्ट में सीखेंगे। 

संचार एक स्थान से दूसरे स्थान पर सूचना भेजने और प्राप्त करने की एक प्रक्रिया है। व्यावसायिक जीवन में संचार एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। प्रभावी संचार के लिए, इंटरनेट एकमात्र ऐसा इंटरफ़ेस है जो एक आम नेटवर्क पर कई लोगों को जोड़ सकता है।

इंटरनेट संचार से तात्पर्य उन तरीकों से है जिनसे लोग विश्वव्यापी वेब पर बात कर सकते हैं। इसमें चैट रूम, ई-मेल, इंस्टेंट मैसेजिंग, फोरम, सोशल नेटवर्किंग साइट्स आदि शामिल हैं।

इंटरनेट पर सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली सेवा इलेक्ट्रॉनिक मेल है। यह दुनिया भर में दूसरों के साथ बात और मैसेज सेंड करने का एक तेज़, आसान और सस्ता तरीका है। यह इंटरनेट की बुनियादी और शुरुआती सेवाओं में से एक है। तो आइये देखते है Email Kya Hota Hai

मूल बातें (Basics of E-mail )

ई-मेल एक डिजिटल संचार लिंक, जैसे इंटरनेट पर संदेश, डेटा, वीडियो, आवाज और ग्राफिक्स भेजने की एक विधि है।

ई-मेल क्या है? (What is an E-Mail?)

इलेक्ट्रॉनिक मेल को कंप्यूटर नेटवर्क पर इलेक्ट्रॉनिक रूप से संदेश भेजने और प्राप्त करने के उपयोग किया जाता है। आज के ई-मेल सिस्टम स्टोर-एंड-फॉरवर्ड मॉडल पर आधारित हैं।

जिसमे की कोई मैसेज सर्वर रिसीवर करता है और उसे प्रोसेस कर दूसरे को सेंड कर देता है जिससे की दूसरे को वो मैसेज प्राप्त हो जाता है। 

दुनिया भर में इलेक्ट्रॉनिक संचार की एक प्रणाली के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। जिसमें एक कंप्यूटर उपयोगकर्ता एक टर्मिनल पर एक संदेश लिख सकता है जो प्राप्तकर्ता के टर्मिनल पर प्राप्त किया जा सकता है जब प्राप्तकर्ता लॉगिन करता है।

ई-मेल उपयोगकर्ताओं को पारंपरिक फोन या मेल सेवाओं की तुलना में कम समय में और सस्ता होता है। जो की  एक-दूसरे के साथ संवाद करने की अनुमति देते हैं। ई-मेल भेजने और प्राप्त करने के लिए कई सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म उपलब्ध हैं।

ई-मेल के फायदे और नुकसान (Advantages and Disadvantages of E-mail )

दुनिया में कहीं भी किसी को भी इ-मेल भेजा जा सकता है, जिसके पास ई-मेल पता है। समय और पैसा बचाने के लिए, अधिक से अधिक लोग ई-मेल का उपयोग कर रहे हैं। हालाँकि, Email Address में थोड़ी सी भी चूक मेल को गलत Email Address पर पहुंचा सकती है। इसलिए, ई-मेल लाभ और सीमाओं के अपने हिस्से के साथ आता है।

ईमेल के फायदे ( Advantages of Email )

1. संदेशों की डिलीवरी बहुत तेज है, कभी-कभी लगभग तात्कालिक होती है, भले ही संदेश विदेश में भेजा जाता है या सिर्फ किसी मित्र के पास जाता है।

2. ई-मेलिंग की लागत लगभग मुफ्त है। 

3. एक ही संदेश की कई प्रतियां एक ही समय में लोगों के समूह को भेजी जा सकती हैं और किसी एक व्यक्ति को आसानी से भेजी जा सकती हैं।

4. चित्र, दस्तावेज और अन्य फाइलें भी आप आसानी से किसी को सेंड कर सकते है। 

ईमेल के नुकसान (Disadvantages of E-mail )

1. ई-मेल से जुड़े वायरस आपके कंप्यूटर को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकते हैं।

2. ई-मेल का उपयोग वास्तव में आधिकारिक व्यावसायिक दस्तावेजों के लिए नहीं किया जा सकता है। वे खो सकते हैं और आप उन्हें नहीं पा सकते हैं।

3. ई-मेल को हैकर्स द्वारा इंटरसेप्ट किया जा सकता है। एक ई-मेल, प्राप्तकर्ता को वितरित करने से पहले, दुनिया के विभिन्न हिस्सों में स्थित सर्वरों के बीच “बाउंस” करता है।

4. यदि ई-मेल बहुत लंबा है या प्रेषक द्वारा ठीक से ड्राफ्ट नहीं किया गया है, तो पाठक अंत तक मेल पढ़ने के लिए रुचि खो सकता है।

ई-मेल एड्रेसिंग (E-mail Addressing)

एक ई-मेल एड्रेस दो अलग-अलग हिस्सों से बना होता है पहला उस मेल सर्वर पर आपकी व्यक्तिगत पहचान या Account नाम (उपयोगकर्ता नाम) और  दुशरा मेल सर्वर कंप्यूटर का डोमेन नाम जिस पर आपका ई-मेल Account है।

एक ई-मेल पता आम तौर पर होता है:


 username@domain.com नाम ई-मेल address के कुछ उदाहरण हैं
(i) onlinetestccc@gmail.com
(ii) onlinetestccc@yahoo.com पर

ईमेल एड्रेस  में @ को विभाजक के रूप में उपयोग किया जाता है। यह आपके account  नाम और मेल सर्वर नाम का नाम को  अलग करता है।

कुछ डोमेन जो आमतौर पर उपयोग किए जाते हैं वे हैं:

 .com वाणिज्यिक संगठन
 .edu शिक्षण संस्थान
 .mil सैन्य स्थल
 .gov सरकारी साइटें
 .org गैर-लाभकारी संगठन

कंप्यूटर से ईमेल दूसरे को कैसे  भेजते है (Computer se Email Kaise Bhejte hain )

इससे पहले आपको एक ईमेल अकाउंट बनना होगा इस ब्लॉग पोस्ट में मैं आपको जीमेल से मेल कैसे सेंड करते है ये बताने जा रहा हु। 

जीमेल पे एक नया अकाउंट बनाने के लिए इस लिंक पे क्लिक करे new account इसके बाद आपको निचे दिए गए फॉर्म को भरना है। 

Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer se Email Kaise Bhejte hain

जब आप अकाउंट बना लेंगे फिर आपको कुछ ऐसा dashboard देखने के लिए मिलेगा। 

Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer se Email Kaise Bhejte hain

इसके बाद compose बटन पे क्लिक कर के आप नई मेल क्रिएट कर सकते है।  

इस पे क्लिक करने के बाद एक  विंडो ओपन ओपन होता है जिमे की मैसेज जिसे भेजना है उसका  ईमेल पते को लिखा  जाता है, विषय ई-मेल के लिए शीर्षक ले जाता है और पाठ का पूरा शरीर थ्रेड बॉडी विकल्प के भीतर आता है। 

ई-मेल भेजने के लिए, Send बटन पर क्लिक करें। ईमेल प्राप्तकर्ता के अंत को तुरंत डिलीवर करता है।

इसके बजाय, यदि कोई उपयोगकर्ता एक फ़ाइल (.doc, .pdf, .jpg, आदि) भेजना चाहता है, तो फ़ाइलों के अनुलग्नक के लिए अटैच फ़ाइलों पर क्लिक करें। 

इनमें से कुछ इस प्रकार हैं

Cc (कार्बन कॉपी): यह ई-मेल को कॉमा द्वारा अलग किए गए अपने संबंधित पते लिखकर बड़ी संख्या में लोगों को भेजने की अनुमति देता है। मतलब एक ही ईमेल जब बहुत से लोगो को सेंड करना हो तब इसका उसे करते है। 

लेकिन इसमें सभी लोग जिसे मैसेज सेंड किया जा रहा है वो देखे सकते है की ये मैसेज और किस किस को सेंड किया गया है। 

Bcc (ब्लाइंड कार्बन कॉपी): इस में यूजर ये नहीं डेक पता की ये मैसेज अन्य और किसको सेंड किया गया है। 

Signature : ये कुछ लाइन का वर्ड होता है जिसमे की मैसेज सेंड करने वाले  नाम हो सकता है। 

दोस्तों इस तरह हम लोगो ने सीखा की।  Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer se Email Kaise Bhejte hain ? आशा करता  इससे मदद मिली होगी।

Take CCC Online Test in English Paper 4

1 thought on “Email Kya Hota Hai In Hindi or Computer Se Email Kaise Bhejte Hain?”

  1. Pingback: The Operating System In Hindi And Basic Computer GK In Hindi -

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *